loading

Rudraksh

Garabh Gauri Rudraksh

श्री गर्भगौरी रूद्राक्ष
 

श्री गर्भगौरी रूद्राक्ष शिव पार्वती गणेश यानि शिव परिवार के रूप में माना जाता हैंेे। यह रूद्राक्ष अत्यन्त दुर्लभ होता है। यह प्रजाति का सबसे दुर्लभ हीरा समझा जाता हैं। जितना फल ,एकमुखी रूद्राक्ष से चैदहमुखी रूद्राक्ष तथा गौरी शकंर रूद्राक्ष सहित सभी रूद्राक्ष पहनने से मिलता है। उससे करोडों गुणा फल श्री गर्भगौरी रूद्राक्ष दर्शन से ही प्राप्त हो जाता है। इसके दर्शन किसी भाग्य वाले को ही प्राप्त होते है। यह सर्व गुण सम्पन्न रूद्राक्ष है।

श्री गर्भगौरी रूद्राक्ष को सोमवार के दिन या किसी शुभ महुर्त में विधिपूर्वक प्रातः काल स्नान के बाद किसी ब्राहम्ण द्वारा पूर्ण रूद्राभिषेक करवा कर ऊँ हीं क्षौं घृणि श्री मंत्र का जाप करके काले धागे में गूथंकर यथाविधि धारण करना चाहिए। साथ ही प्रतिदिन एक बार यह मंत्र अवश्य जपें।
 

यह रुद्राक्ष हमारे यहाँ विद्वान पंडितों के द्वारा शुभ महुर्त में शुद्ध व सिद्ध किया गया है यदि आप इसे प्राप्त चाहते है