loading

Mala

Rudraksh Sphatik Mala

 

 

रुद्राक्ष स्फटिक माला

शास्त्रों के अनुसार रुद्राक्ष के छोटे दाने अधिक शुभकारक तथा प्रभावशाली होते हैं। इसी कारण रुद्राक्ष के बड़े दानों की अपेक्षा इनका अधिक महत्व है। इस माला को धारण करने से मानसिक रोग, हृदय संबंधी रोगों से रक्षा होती है। भौतिक वस्तुओं की प्राप्ति, आकर्षण, सौंदर्य, भोग प्राप्ति के उद्देश्य से मंत्र जप कर रहे हैं तो स्फटिक की माला का उपयोग करना चाहिए। लक्ष्मी मंत्रों का जाप करने में भी स्फटिक की माला प्रयोग में लाई जाना चाहिए। स्फटिक की माला पहनने से व्यक्ति के आकर्षण प्रभाव में वृद्धि होने लगती है और वह शीघ्र ही सभी का प्रिय बन जाता है। अतः जब दोनों दानो की एक साथ बनी माला का प्रयोग किया जाता है तो शिव व शक्ति दोनों का आर्शीवाद आप पर बनता है.

इस माला का शुभ महुर्त में पूजन कर आप इसे मन्त्र जपने व पहनने लायक बना सकते है. इसे आप आपने इष्ट देव के मंत्र द्वारा भी शुद्ध कर सकते है. आप हमसे ही क्यों ले इसके पीछे कारण यह है कि इस कि खरीदारी हम शुभ दिन में करते है व हर माला स्वच्छ व अखंडित देख कर ही ली जाती है. जिस से आप इस का पूर्ण लाभ उठा सके. 

 

Astrologer Kanchan Pardeep Kukreja

Divya Jyoti Astro and Vaastu

Abohar & Ludhiana