loading

पूर्ण चंद्र ग्रहण 27 जुलाई 2018

पूर्ण चंद्र ग्रहण 27 जुलाई 2018

 

धरती सुर्य के आस पास चक्र लगाती है चन्द्रमा धरती के गिर्द चक्र लगता है जब यह तीनो एक ही रेखा में आते है तब ग्रहण लगता है उस समय धरती के जिस हिस्से में चंद्र व् सूर्य की मिश्रित किरणे पड़ती है वहां इनका प्रभाव अधिक नकारात्मक होता है

इसी चक्र के चलते इस वर्ष भारत में 27 जुलाई 2018 को दिखेगा सदी का सबसे लंबा चन्द्र ग्रहण, इस पूर्ण चंद्र ग्रहण का नजारा भारत समेत दुबई, अफ्रीका, मिडिल ईस्‍ट और दक्षिण एशिया में खुली आंखों से देखा जा सकेगा. 27 जुलाई को इस सदी का सबसे लंबा चन्द्र ग्रहण दिखाई देगा. ग्रहण के दौरान चन्द्रमा करीब चार घंटे के लिए धरती की छाया में रहेगा . इस ग्रहण को कम से कम तीन महाद्वीपों में स्पष्ट रूप से देखा जा सकेगा. दुबई एस्ट्रोनॉमी ग्रुप के अनुसार, यह ग्रहण सदी का सबसे लंबा ग्रहण होगा जो करीब एक घंटे 43 मिनट का होगा.

ग्रहण के दरमियान चन्द्रमा के आस पास एक लाल घेरा देखा जायेगा जो की बहुत ही कम दिखता है इस बार ग्रहण की समय अधिक होने के कारण यह दिखाई देगा. इस नजारे को 'ब्लड मून' कहा जाता है . 'ब्लड मून' पूर्ण चन्द्र ग्रहण के दौरान ही बनते हैं.

पुरे भारत देश में यह ग्रहण दृश्य होगा ग्रहण काल रात्रि 23:54 (27.07.2018) से 03:49 (28.07.2018) तक रहेगा. उस समय पूर्ण भारत में चंद्र उदय हो चूका होगा इस लिए रोगी व गर्भवती महिलाऐ ध्यान करें। 14:54 (02:54 दुपहर 27 जुलाई 2018) पर सूतक शुरू हो जाएगा। जहां तक हो सके तो इस समय में सफर न करें।

**गर्भवती महिलाये ग्रहण के वक्त क्या करें क्या न करें**

गर्भवती महिलाऐ इस (14:54 मिंट से पहले) ग्रहण के सूतक शुरु होने से पहले भोजन कर लें सूतक से मोक्ष के दरमियान चबा कर कुछ भी नही खावें। किसी भी प्रकार से तेज़ धार (चाकू आदि) का इस्तेमाल न करें,  चोकडी मार कर न बैठे बैड पर सीधी टागें करके बैठे। आग न जलावे ग्रहण लगने के बाद पुरुष भी आग न जलावे smoking न करें। ग्रहण काल में कुछ भी न खावें न पीवें (सूतक समय में आप लिक्विड सूप जूस पतली खिचड़ी, ओट्स ही खावे पानी व दूध में कुछ मिला कर ही पीवे)। सम्भोग न करें। अगर हो सके तो गोद में एक लाल कपडा बिछा एक हरा नारियल रख कर पाठ करें व होने वाली संतान के लिए प्रार्थना करें। 28 तारीख सुबह यह लाल कपड़ा व नारियल मंदिर में दें आवें। किसी भी प्रकार भी अधिक जानकारी के लिए आप हमें फोन कर सकते हैं

**आम सभी लोग ग्रहण के वक्त क्या करें क्या न करें**

सूर्यग्रहण हो या चंद्रग्रहण, सूतक लगने के बाद से और सूतक समाप्त होने तक भोजन नहीं करना चाहिये। ग्रहण के वक्त पत्ते, तिनके, लकड़ी और फूल नहीं तोड़ने चाहिए। ग्रहण के वक्त बाल नहीं कटवाने चाहिये। ग्रहण के सोने से रोग पकड़ता है किसी कीमत पर नहीं सोना चाहिए। ग्रहण के वक्त संभोग, मैथुन, आदि नहीं करना चाहिये। ग्रहण मोक्ष के वक्त दान करना चाहिये। इससे घर में समृद्धि आती है। कोइ भी शुभ कार्य नहीं करना चाहिये और नया कार्य शुरु नहीं करना चाहिये। अगर संभव हो सके तो पके हुए भोजन को ग्रहण के वक्त ढक कर रखें, साथ ही उसमें तुलसी की पत्ती डाल दें। ग्रहण के वक्त किसी भी मंत्र का जाप एवं अपने ईष्ट देव की पूजा करना लाभकारी होता है।

 

Astrologer Kanchan Pardeep Kukreja

Divya Jyoti Astro and Vaastu,

Abohar & Ludhiana